Logo

 

हिन्दुस्तानी प्रचार सभा
Hindustani Prachar Sabha

  022 – 2281 2871/2281
  022 – 0126/2281 1885
 hps.sabha@gmail.com
  हिन्दुस्तानी प्रचार सभा

Menu

UPCOMING EVENT

विषय :
शिक्षा - 360o समीक्षा
Subject:
Education :
3600 overview
दिनांक : -
22 सितंबर 2018
स्थल :
इंडियन मर्चेंट्स चैम्बर, चर्चगेट
समय :
प्रातः 10 बजे से

आज़ादी के 70 साल बाद भी हमारी शिक्षा व्यवस्था को लेकर प्रश्न उठते रहते हैं। अक्सर इन प्रश्नों को नज़र अंदाज़ करने की कोशिश की जाती है।
स्कूल और कॉलेज के स्तर पर शिक्षा में अभी भी बहुत सुधार और परिवर्तनों की गुंजाइश है लेकिन इन पर कोई गंभीर चर्चा नहीं होती है।
इस बात की गंभीरता को देखते हुए , हिंदुस्तानी प्रचार सभा दिनाँक 22 सितंबर 2018 , शनिवार को सुबह 10 बजे से इंडियन मर्चेंट चैम्बर , चर्चगेट में एक संगोष्ठी का आयोजन कर रही है जिसका विषय है "शिक्षा - 360o समीक्षा " .
इस संगोष्ठी में भाग लेने के लिए शिक्षाविदों , कॉलेज तथा स्कूल के अध्यापक ,समाजसेवक तथा पत्रकार आमंत्रित हैं ।
अगर आप इस संगोष्ठी में एक प्रतिभागी के रूप में भाग लेना चाहते / चाहती हैं तो कृपया अपना नाम , पदनाम , स्कूल/ कॉलेज का नाम , संपर्क नंबर हमें hps.sabha@gmail.com पर 10 सितम्बर 2018 तक भेज दें।
पत्रकार तथा समाजसेवी संस्था के प्रतिनिधि भी अपना नाम व विवरण भेज सकते हैं ।

संजीव निगम
निदेशक [कार्यक्रम ]
मोब : 9821285194 / 7977887909

राकेश कुमार त्रिपाठी
योजना समन्वयक
मोब. 9819498012 / 9820422972

Saral Hindi Admission Form Urdu Admission Form

ऐतिहासिक झलक


सन् 1942 में जब सम्पूर्ण देश में आज़ादी के लिए ‘करो या मरो’ की भावना व्याप्त थी, महात्मा गाँधी ने सम्पूर्ण भारत को एक सूत्र में जोड़ने के लिए ‘हिन्दुस्तानी ज़बान’ की ज़रूरत महसूस की। 26 अप्रैल सन् 1942 को उन्होनें ‘हरिजन’ में राष्ट्रभाषा का ज़िक्र करते हुए ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ की परिकल्पना के सन्दर्भ में अपने विचार व्यक्त किये कि “आसान हिन्दी और आसान उर्दू दोनों भाषाओं के मेल से जो भाषा बनती है, वह हिन्दुस्तानी है। इस हिन्दुस्तानी भाषा के लिए देवनागरी और उर्दू दोनों लिपियों के इस्तेमाल की ज़रूरत है।’’ उन्होंने इस बात की इच्छा ज़ाहिर की कि “इस काम को पूरा करने के लिए हम लोग ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ का गठन करेंगे।’’ 5 मई सन् 1942 को अपने सपने को साकार करने के लिए उन्होंने वर्धा ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ की स्थापना की। उसके ठीक बाद ही मुंबई में भी उन्होंने ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ की शुरुआत की।

श्रीमती पेरीन बहन कैप्टेन और श्री मोरारजीभाई देसाई ने ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ के विकास में अपना ख़ून-पसीना एक कर दिया। श्रीमती पेरीन बहन कैप्टन के निधन के बाद उनकी बड़ी बहन श्रीमती गोशी बहन कैप्टेन ने सभा का कार्यभार संभाला। आगे चलकर अनेक महानुभावों ने ‘सभा’ की प्रगति में उल्लेखनीय योगदान दिया।

आज ‘सभा’ का कार्यालय अपने स्वयं के पाँच मंज़िली इमारत में है, जिसका नाम ‘महात्मा गाँधी मेमोरियल बिल्डिंग’ है। इसके लिए श्रीमती पेरीनबहन कैप्टन के सप्रयासों से महाराष्ट्र सरकार ने नेताजी सुभाष रोड पर दो हज़ार वर्गग़ज का भूखंड प्रदान किया था। देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू और वित्तमंत्री श्री मोरारजीभाई देसाई की स़िफारिश पर ‘सभा’ को भवन-निर्माण के लिए ‘गाँधी स्मारक निधि’ ने पाँच लाख रुपयों की राशि प्रदान की। भवन-निर्माण में श्रीमती पेरीन बहन कैप्टन और उनकी बहन श्रीमती गोशी बहन कैप्टन ने महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायी। ‘भवन-निर्माण’ हो जाने पर ‘हिन्दुस्तानी प्रचार सभा’ अनेक गतिविधियों की ओर प्रवृत्त हुई। विभिन्न परीक्षाओं के संचालन (परीक्षा विभाग के अन्तर्गत विस्तृत उल्लेख) के साथ-साथ महात्मा गाँधी मेमोरियल रिसर्च सेण्टर और लाइब्रेरी की भी शुरूआत की गयी।


UPCOMING EVENT

विषय :
अस्पृश्यता :
आधुनिक भारत में प्राचीन रोग
Subject:
Untouchability:
An ancient disease in Modern India
दो-दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी -
13 ,14 अक्टूबर 2018
स्थल :
गूजरात विद्यापीठ , अहमदाबाद
समय :
प्रातः 10 बजे से

देश की दो प्रतिष्ठित संस्थाओं हिन्दुस्तानी प्रचार सभा तथा गूजरात विद्यापीठ के संयुक्त तत्वावधान में उपरोक्त संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। संगोष्ठी में अस्पृश्यता से जुड़े विविध विषयों पर विद्वानों द्वारा विचार व्यक्त किये जाएंगे।
इस आयोजन में भाग लेने के इच्छुक प्रतिभागी आवेदन पत्र को भरकर, रजिस्ट्रेशन फीस को जमा कर हमें सूचित करें। प्रतिभागियों को अपने आने-जाने की व्यवस्था स्वयं करनी होगी।
निर्धारित शुल्क के सामने उनके ठहरने तथा खाने पीने की व्यवस्था गूजरात विद्यापीठ, आश्रम रोड के हॉस्टल में की जायेगी जोकि आयोजन स्थल भी है।
संगोष्ठी में अहमदाबाद से बाहर के 50 प्रतिभागियों का ही पंजीकरण स्वीकार किया जाएगा कृपया पंजीकरण राशि जमा करने से पूर्व अपना फॉर्म भेजकर पंजीकरण संख्या प्राप्त कर लें।

कोई भी जानकारी पाने के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म में दिए गए ईमेल पर लिखें
अथवा संस्था के दूरभाष नंबर :
022-22812871 / 22810126
पर संपर्क करें।


For more details and Online Registration Form CLICK HERE